ग्वालियर में एक ऐसा मंदिर है जहां मांगी गई हर मुराद पूरी हो जाती है सिंधिया राजवंश की कुलदेवी भी है मांढरे की माता

Posted On:Wednesday, October 13, 2021

ग्वालियर। इस समय पूरे देश में नवरात्र चल रहे हैं भक्तों को नवरात्रों का बेसब्री से इंतजार भी रहता है नवरात्रि से पहले देवी आराधना के लिए पूरे देश में तैयारियां शुरू हो जाती हैं । माता के बड़े-बड़े पंडाल हर गली मोहल्ले में लगाए जाते हैं।

ग्वालियर राजघराने के लिए भी नवरात्र बेहद खास माना जाता है क्योंकि ग्वालियर के कैंसर पहाड़ी पर माता रानी का एक भव्य मंदिर है आपको बता दें कि हम बात कर रहे हैं मांढरे वाली माता की यह सिंधिया राजवंश की कुलदेवी भी है।

बताया जाता है कि ग्वालियर के रियासत के तत्कालीन शासक जीवाजी राव सिंधिया द्वारा 135 वर्ष पूर्व इस मंदिर की स्थापना कराई गई थी । उस समय इसे महाकाली देवी का मंदिर कहा जाता था लेकिन वर्तमान में इसे मांढरे वाली माता के नाम से ग्वालियर में जाना जाता है ।

सिंधिया परिवार की कुलदेवी है  मांढरे वाली माता - 

कैंसर पहाड़ी पर स्थित मांढरे वाली माता सिंधिया राजवंश की कुलदेवी है आपको बता दें कि सिंधिया राजवंश जब भी कुछ नया करने जाता है पहले माता मैया के यहां आशीर्वाद लेने आता और माथा टेकने आता है बताया जाता है कि इस मंदिर के लिए भूमि भी सिंधिया राजवंश ने ही दी थी अभी भी मंदिर की देखरेख सिंधिया परिवार ही करता है।

दूर दूर से लोग आते हैं माता मैया के दर्शन करने- 

ग्वालियर के कैंसर पहाड़ी पर स्थित मांढरे  वाली माता के दर्शन करने के लिए जिले के साथ-साथ प्रदेश और देश विदेश से भी लोग आते हैं यहां पर मांगी गई हर मुराद पूरी हो जाती है।  नवरात्रि में तो यहां पर भक्तों का मेला लगता है भक्त देश विदेश से माता मैया के दर्शन करने के लिए आते हैं और माथा टेकते हैं।

सिंधिया के जयविलास पैलेस और मंदिर का मुख है आमने-सामने - 

इतिहासकार बताते हैं कि मंदिर और सिंधिया के जयविलास पैलेस का मुख्य आमने-सामने है इस मंदिर का निर्माण महाराजा जीवाजीराव सिंधिया की फौज के कर्नल आनंद राव मांढरे के कहने पर तत्कालीन सिंधिया शासक ने कराया था । सिंधिया शासक सुबह उठने के बाद पहले माता के दर्शन किया करती थे उसके बाद अपनी दिन की शुरुआत करते थे।


ग्वालियर और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. gwaliorvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.